Share Market क्या है? कैसे निवेश करे?

SHARE-MARKET-kya-hai-in-hindi

Image Source – CANVA | Image by – CANVA

दोस्तों, आज हम बात करने वाले है Share-Market क्या है? इसमें कैसे निवेश करे?  इसके अलावा आज हम Share Market के बारे में हर चीज जानेगे जैसेShare-Market क्या है? इसमें कैसे निवेश करे?, शेयरों के भाव में उतारचढ़ाव क्यों जाता है?, आखिर आप कैसे कर सकते हैं शेयर बाजार में निवेश की शुरूआत? मुझे उम्मीद है कि आज के बाद आपके Share-Marketसे जुड़े सभी प्रश्न हल होने वाले है। तो चलिए शुरू करते है आज की ये महत्वपूर्ण जानकारी :

जैसा कि हम जानते है कि शेयर का हिंदी में मतलब होता है हिस्सा और बाजार वो जगह होती है जहा हम चीज खरीदते है और कुछ लोग बाजार में चीज बेचते भी  है।
Share-Market एक बहुत ही risky जगह होती है क्युकि यहाँ invest करने में कुछ लोगो को बहुत ज्यादा लाभ होता है और वही कुछ लोगो को बहुत हानि का सामना भी करना पड़ता है और कई बार हानि इतनी बड़ी होती है लोग कंगाल भी हो जाते है।  
और कई बार लाभ इतना बड़ा होता है कि लोग करोड़पति भी बन जाते है। इस लिए पूरी जानकरी को एकदम ध्यान से पढ़े।

Share-Market एक ऐसी जगह है जहां किसी विशेष कंपनी के शेयर खरीदे या बेचे जा सकते हैं। यह किराने की दुकान के समान है जहां आप दुकानदार को उस वस्तु की कीमत देकर उस वस्तु को खरीदते हैं। Share-Marketमें, वस्तु का अर्थ होता हैएककंपनीमेंशेयरहै। आप बस राशि का भुगतान करें और उस कंपनी में हिस्सा खरीदें।


आप जिस प्रकार जितना पैसे हिस्सा लगाकर Shareखरीदते है आप उसी प्रकर उस कंपनी में कुछ हिस्से के मालिक बन जाते है। जिसका मतलब है कि आपने उस कंपनी के कुछ प्रतिशत share हासिल लिए है और कुछ प्रतिशत के उस हिस्से के मालिक बन गए है। 
और जिसका Share-Marketमें साफ़ साफ़ मतलब होता है कि यदि भविष्य में कंपनी को लाभ होगा तो आपको आपके द्वारा लगाए गए पैसो से ज्यादा आपको मिलेगा और मतलब आपको लाभ होगा। 

यदि भविष्य में कंपनी  को घाटा हुआ तो मतलब आपको भी नुकसान होगा और आपको एक भी पैसे नहीं मिलेंगे। ये ठीक वैसा है जैसा मैंने आपको पहले बताया है। लाभ हुआ तो करोड़पति और घाटा हुआ तो कंगाल। 

उदाहरणके लिए: अगर किसी कंपनी ने कुल 20 लाख शेयर Issue किये हैं और आपने उसमें से 2 लाख Sharesखरीद लिए हैं तो आप उस कंपनी के 10% हिस्सेदार बन जाते हैं| आप जब चाहें तब इन Shareको Stockmarket में ब्रोकर्स की मदद से आसानी से बेच सकते हैं|

Stock Market या Share market में विदेशी निवेशक भी काफी निवेश कर रहे है क्युकि उन्हें लगता है कि उन्हें भी बहुत लाभ कमाने का अवसर मिलेगा। 

share को Stock Exchange के माध्यम से ख़रीदा और बेचा जाता हैं भारत में दो Main Stock Exchange है   

1) BSE (Bombay Stock Exchange) 

2) NSE (National Stock Exchange)

जो ब्रोकर होते है वो इन Stock Exchange के सदस्य होते है और हम इन्ही में माध्यम से Share-Marketमें निवेश करते है। ये आपको शेयर मार्किट में शेयर खरीदने के लिए अच्छी कंपनी बताते है। लेकिन ये कुछ कमीशन लेते है। 

यदि आप ऐसा सोच रहे है कि आखिर मैं ब्रोकर्स को पैसा क्यों दू? मैं स्वयं Share-Marketमें जाकर शेयर खरीद लूंगा। तो रुकिए !! आप ऐसा नहीं कर सकते है हम हमेशा ट्रेडिंग ब्रोकर्स के माध्यम से ही कर सकते है।

सभी लिस्टेड कंपनी के शेयरों का मूल्य BSE/NSE में दर्ज होता है. सभी  लिस्टेड कंपनियों के शेयरों का मूल्य उनकी लाभ कमाने की क्षमता के अनुसार घटताबढ़ता रहता है. सभी Share-Market का नियंत्रणSecurities and Exchange Board of India (SEBI) के हाथ में होता है।
SEBI की अनुमति के बाद ही कोई कंपनी शेयर बाजार (Stock Market) में लिस्ट होकर अपना Initial Public Offering (IPO) जारी कर सकती है.

अब हम BSE, NSE, SEBI के बारे में बात कर लेते है आखिर ये कंपनी/संस्था क्या है और इनके क्या काम है?
BSE [Bombay Stock Exchange]
BSE कीस्थापना1875 मेंकीगईथी।BSE एशियाकापहलाऔरसबसेतेज़Stock exchange है, जो6 माइक्रोसेकंडऔरभारतकेप्रमुखexchange group मेंसेएकहै।

पिछले143 वर्षोंमें, BSE नेभारतीयCorporate sector केविकासकोeasy बनानेकेलिएइसेएककुशलपूंजीजुटानेकाप्लेटफॉर्मबनायागयाहै।लोकप्रियरूपसेदेखाजायेतोइसेBSE केरूपमेंजानाजाताहै, 1875 में‘The Native Share & Stock Brokers’ Association’ के रूपमेंइसकीस्थापनाकीगईथी। 

2017 मेंBSE भारतकापहलाlisted stock exchange बनगया।BSE देशमेंपहलाstock exchange बनाजिसेसिक्योरिटीजकॉन्ट्रैक्टरेगुलेशनएक्ट, 1956 केतहतस्थायीमान्यतादीगईथी।इसमें6000 सेज्यादाकंपनीलिस्टेडहै।Market capitalization केअनुसारदुनियामेंइसकी10th market है।

NSE [National Stock Exchange National]

Stock Exchange भारतकासबसेबड़ाऔरवर्तमानतकनिकीरूपसेleading stock exchange है।NSE  मुंबई मेंस्थितहै।इसकीस्थापना1992 मेंहुईथी।कारोबारकेलिहाजसेदेखाजायेतोNSE विश्वकातीसरासबसेबड़ाstock exchange है। 

NSE ने1994 मेंelectronic screen-based ट्रेडिंग, इंडेक्स ट्रेडिंग  और 2000 में इंटरनेट ट्रेडिंग कीशुरुआतकी, जोभारतमेंइसतरहकाकामकरनेवालापहलाकारोबारथा।NSE कीइंडेक्सनिफ्टी50 काउपयोगबैरोमीटरकेरूपमेंलगभगपुरेविश्वकेबाज़ारोकीतुलनामेंबहुतज्यादाकियाजाताहै। 

इसकेVSAT terminal भारतकेलगभग322  शहरों तकफैलेहुएहैं।   इसमें 1600 से ज्यादाकंपनीलिस्टेडहै।Market capitalization केअनुसारदुनियामें11th market है।डेलीटर्नओवरकेहिसाबसेयेBSE सेबड़ाहै।

वर्तमान में श्रीविक्रमलिमयेNSE केDirector and CEO हैं।NSE मेंपूरीतरहसेIntegrated बिजनेसमॉडलकेआधारपरकामकरताहै।जिसमेंहमारीExchange listing, Trading Services, Clearing and Settlement Services, Index, Market data feed, Technology solutions और Financial education भी शामिलहैं।

SEBI [Securities and Exchange Board of India]

Securities and Exchange Board of India [SEBI]  कीस्थापना12 अप्रैल, 1992 कोभारतीयअधिनियमऔरप्रावधानोंकेअनुसारकीगईथी।SEBI कामुख्यालयमुंबईकेBandra Kurla Complex केBusiness district मेंहैऔरइसकेनईदिल्ली, कोलकाता, चेन्नईऔरअहमदाबादमेंभीRegional office भी  हैं।

SEBI केअध्यक्षकोभारतसरकारद्वारानियुक्तकियाजाताहै।SEBI केबाकिदोसदस्यजोकेंद्रीयवित्तमंत्रालयकेअधिकारीहोतेहै।  भारतीय रिज़र्व बैंकसेभीएकसदस्यनियुक्तकियाजाताहै। 
शेषपाँचसदस्योंकोभारतसरकारद्वारानियुक्तकियाजाताहै, उनमेंसेकमसेकमतीनFull time member होतेहै।

शेयरों बाजार के भाव में उतार-चढ़ाव क्यों आ जाता है?

यदि हम किसी व्यक्ति सेShare-Market केबारेमेंपूछेंगेतोहमकोएकबातजरूरदेखनेकोमिलेगीकिसबएकबातजरूरकहेंगेStock कीकीमतेंअक्सरघटतीबढ़तीरहतीहैं, कभीकभीएकहीकारोबारीदिनमेंचौंकानेवालीमात्रामेंमूल्यमेंलाभकमाताहै 

औरशयदउसेअगलीबारबहुतसाराघाटाभीसहनापड़े।क्याकभीआपनेसोचाहैकिआखिरऐसाक्योंहोताहै।क्याऐसाकोईजानबूझकरकरताहैचालियेहमआपकोबतातेहै।

किसी कंपनी केकामकाज, ऑर्डरमिलनेजानेयाछिनजानेपर, मनमुताबिकनतीजेबेहतररहने, याघाटाहोनेपरभीशेयरोंबाजारकेभावमेंउतारचढ़ाव  आता है।
सबसे बुनियादी स्तरकीबातकरेतोउतारचढ़ाव, बाजारमेंस्टॉककीsupply औरdemand कीमतनिर्धारितहोताहै।

अगर कोई कंपनी शेयर बाजारके  agreement से जुड़ीशर्तकापालननहींकरती, तोउसकंपनीकोSEBI, BSE/NSE लिस्टसेहटादेतीहै।
लिस्टेड कंपनी रोजकारोबारकरतीरहतीहैऔरउसकीposition मेंरोजकुछकुछबदलावहोतारहताहै, शायदइसकेआधारपरभीमांगघटनेबढ़नेसेउसकेशेयरोंकीकीमतोंमेंउतारचढावआतारहताहै।

Share market में निवेश की शुरूआत कैसे करे?

जैसा कि मैंने आपको बताया कि यदि आप Share-Market में इन्वेस्ट करना चाहते है तो आपको हमेशा ट्रेडिंग ब्रोकर्स के माध्यम से ही शुरू करनी चाहिए। इसके क्या फायदे है मैं आपको पहले ही बता चुका हु।
ट्रेडिंग के लिए आपको सबसे पहले किसी ब्रोकर की मदद से Demat account खुलवाना होगा  इसके बाद आपको Demat account को अपने बैंक अकाउंट से लिंक करना होगा। और आपका बैंक अकाउंट savings account ही होना चाहिए। 

बैंक अकाउंट से आप अपने डीमैट अकाउंट में फंड ट्रांसफर कीजिये और ब्रोकर की मदद  से किसी कंपनी के शेयर खरीद लीजिये। इसके बाद वह शेयर आपके Demat account में ट्रांसफर हो जायेंगे। आप जब चाहें उसे किसी भी दिन में वो शेयर ब्रोकर के माध्यम से ही बेच सकते हैं।
और यदि आप चाहे तो आप स्वयं अपने बैंक जाकर Demat account खोल सकते है। ये बहुत ही आसान है। आखिर बैंक में Demat account कैसे खुलेगा? ये जानकारी आपको अपने बैंक से ही मिल जाएगी।

और आप ऑनलाइन भी Demat account ओपन कर सकते है मैं नीचे टॉप ऑनलाइन Demat account ओपन करने वाली कंपनी की लिस्ट दे रहा हु। आप इनकी मदद से  भी बहुत आसानी से Demat account खोल सकते हो।

    1. Zerodha
    2. Angel Broking
    3. Sharekhan    
    4. Edelweiss
    5. 5Paisa   
    6. Kotak Securities   
    7. IIFL
    8. Motilal Oswal
    9. ICICI Direct   
    10. Karvy

      शायद आपको पता हो, विश्व के सबसे अमीर व्यक्तियों में शामिल Warren Buffett शेयर बाजार के एक्सपर्ट है। और शेयर बाजार (Stock Market) में ही निवेश कर अरबपति बने हैं।

      कुछ महत्वपूर्ण बाते

          1. सबसे पहले इस विषय के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर ले फिर आगे बढे।
          2. खुद से रिसर्च करे और एकदम सही जानकारी प्राप्त करे।
          3. Long-Term goals जरूर सेट करे।
          4. अपने रिस्क लेने की छमता को जरूर समझे।
          5. रिसर्च और प्लानिंग के साथ ही इस फील्ड में आगे बढे।
          6. इस फील्ड से जुडी छोटी से छोटी बातो को जरूर सीखे।
          7. अपने सभी पैसे एक ही शेयर को खरीदने में न लगाए।
          8. पहले शेयर मार्किट के बारे में सब कुछ जान ले फिर उसके बात में निवेश करे।
          9. किस कंपनी का शेयर बढ़ा, किस कंपनी का शेयर घटा ये जरूर जाने। आप economic times  जैसे न्यूज़ पेपर पढ़ सकते है और आप न्यूज़ चैनल की भी मदद ले सकते हो।


            निष्कर्ष:-

            आज हमने भी जाना किShare Market क्या है? कैसे निवेश करे?” हमने अलावा हमने  शेयरों के भाव में उतारचढ़ाव क्यों जाता है?, आखिर आप कैसे कर सकते हैं शेयर बाजार में निवेश की शुरूआत?”  के बारे में भी बात की। उम्मीद करते है कि आज कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी।
            यदि आपको हमारी ये जानकारी पसंद आयी है तो आप इसे शेयर जरूर करे। और कोई हमारे लिए सुझाव या प्रश्न हो तो हमे कमेंट करके जरूर बताये।

            Leave a Comment