सीखे | Stock market क्या है? इससे पैसे कैसे कमाए?

stock-market-kya-hai-hindi

Image Source – Google | Image by – CANVA

दोस्तों आज हम बात करने वाले है. कि आखिर Stock market क्या है। आपने भी इसके बारे में जरूर सुना होगा. यदि आप भी Stock market में निवेश करते है या निवेश करना चाहते है तो आपके लिए इसके बारे में बारीकी से जानना जरुरी है.

 
आज के समय में कई लोग Stock market में अच्छा खासा पैसा कमा रहे है कई कंपनी करोडो और अरबो तक का प्रॉफिट कमा चुकी है. आप भी इससे अच्छा पैसा कमा सकते है बस आपको इसके बारे में अच्छे से ज्ञान होना चाहिए. बेसिक जानकारी प्राप्त करने से आप पैसा नहीं कमा सकते है आपको बेसिक से एडवांस लेवल तक का ज्ञान होना चाहिए. इसलिए

आज कि इस पोस्ट में हम बात करेंगे कि Stock market क्या है? (Stock market in Hindi), इससे पैसे कैसे कमाए, Stock market में कंपनी कब दिखती है, Stock market कितने प्रकार के होते है, Stock market में ट्रेडिंग का क्या है. इसका मतलब क्या है। चलिए समझते है



Stock market क्या है? (Stock market in Hindi)

जैसे की आप सभी को पता है कि share का हिंदी में मतलब होता है हिस्सा और मार्किट का बाजार = हिस्सा+बाजार

Stock market इसी सिद्धांत पर काम करता है।

चलिए उदाहरण से समझते है. अगर किसी कंपनी ने कुल 20 लाख शेयर Issue किये हैं और आपने उसमें से 2 लाख Shares खरीद लिए हैं. 20 लाख का 2 लाख 10% होता है इस तरह आप उस कंपनी के 10% हिस्सेदार बन जाते हैं. आप जब चाहें तब इन shares को Stock market में ब्रोकर्स की मदद से आसानी से बेच सकते हैं. ब्रोकर्स आपको शेयर खरीदने और बेचने में मदद करते है.

कई लोग stock market और share market में बहुत कंफ्यूज रहते है. मैं आपको बता दू कि ये दोनों एक ही है ये अलग अलग नहीं है.

आज के समय में भारत में Stock Exchange/Share market में विदेशी निवेशक भी काफी निवेश कर रहे है क्युकि उन्हें यहाँ के शेयर मार्किट में अच्छा प्रॉफिट और facilities नजर आती है. दूसरे देशो की तुलना में.

आपको ये पता होना चाहिए शेयर को Stock Exchange के माध्यम से ख़रीदा और बेचा जाता हैं भारत में दो Main Stock Exchange है.

  1. BSE (Bombay Stock Exchange)
  2. NSE (National Stock Exchange)

जो brokers होते है वो इन Stock Exchange के सदस्य होते है और हम इन्ही में माध्यम से Share market में निवेश कर सकते है. ये आपको Share market में share खरीदने के लिए अच्छी कंपनी बताते है। लेकिन ये कुछ कमीशन लेते है। हम हमेशा trading ब्रोकर्स के माध्यम से ही कर सकते है.

सभी listed कंपनी के शेयरों का मूल्य BSE/NSE में दर्ज होता है. सभी listed कंपनियों के शेयरों का मूल्य उनकी लाभ कमाने की क्षमता के अनुसार घटता-बढ़ता रहता है. देश के सभी Share markets का नियंत्रण Securities and Exchange Board of India (SEBI) के हाथ में होता है.

SEBI की अनुमति के बाद ही कोई कंपनी शेयर बाजार (Stock Market) में लिस्ट होकर अपना Initial Public Offering (IPO) जारी कर सकती है.

BSE, NSE, SEBI  के बारे में और जानने के लिए पिछली पोस्ट पढ़े.



कम्पनियां Shares कैसे Issue करती हैं?

सबसे पहले जो भी कंपनी share, issue करना चाहती है. वो शेयर को stock exchange में लिस्ट करवाती है. फिर SEBI के कहने पर ही Initial Public Offering (IPO) जारी करती है. अभी नियमो को फॉलो करती है. और सब कुछ सही होने के बाद ही कंपनी, शेयर निर्धारित मूल्य पर Public को Issue करती हैं.

इसके बाद शेयर, Stock Market में आ जाते है यहाँ से कंपनी शेयर को बेचती है और अब जिन्हे भी वो शेयर खरीदने होते है वो शेयर को खरीद सकते है. 



Shares की कीमत कैसे बदलती हैं?

जब SEBI  द्वारा जब IPO जारी किया जाता है. तो तब ही share की कीमत निर्धारित की जाती है. ऐसा नहीं है कि जितना कंपनी चाहे उतनी कीमत निर्धारित कर सकती है. इसमें SEBI और कंपनी द्वारा एक ऐसी कीमत निर्धारित की जाती है जो सभी को परफेक्ट लग.

शेयर के बाजार में आने के बाद शेयर की कीमत मार्केट की Demand और Supply के आधार घटतीबढ़ती रहती है.

अगर shares ख़रीदने वालो की संख्या बेचने वालो की तुलना में कम होगी तो Shares की कीमत बढ़ेगी —

     Buyers > Sellers

 

और अगर shares ख़रीदने वालो की संख्या बेचने वालो की तुलना में ज्यादा होगी तो Shares की कीमत घटेगी —

     Sellers < Buyers



Mutual Funds क्या है? (Mutual Funds in Hindi)

Mutual fund की मदद से आप इक्विटी, डेट, और लिक्विड एसेट्स, Bonds आदि में निवेश कर सकते है. एक Fund manager इस टाइप के फंड्स में आपको निवेश करने में मदद करता है. आप खुद इन फंड्स को मैनेज नहीं कर सकते है.

वो इस तरह निवेश करते है जिससे आपको ज्यादा से ज्यादा लाभ हो. भारत में Mutual fund को भारतीय प्रतिभूति विनिमय बोर्ड (सेबी) मैनेज करती है. निवेश करने से पहले SEBI के नियमो को फॉलो करे और उनके दिखाए दिशा निर्देशों पर चले आगे पढ़े



Stock के प्रकार (Types of Stocks in hindi)

वैसे तो stock कई प्रकार के होते है. लेकिन मुख्यता: stock 3 Type के माने जाते है.

  • Common Stock
  • Preferred Stock 
  • DVR Stock

 

Common Stock क्या है (Common Stock in Hindi)

इन स्टॉक को आम इंसान को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है. आम स्टॉक के प्रत्येक शेयर पर किसी कंपनी में स्वामित्व का हिस्सा होता है. यदि कोई कंपनी अच्छा प्रदर्शन करती है या उसकी संपत्ति का मूल्य बढ़ता है, तो आम स्टॉक मूल्य में ऊपर जा सकता है. वही कंपनी खराब प्रदर्शन करती है तो आम स्टॉक, मूल्य  में कमी आ सकती है.

आम स्टॉक निवेशकों को समय के साथ कंपनी की सफलता में हिस्सेदारी करने की अनुमति देता है, इसी वजह से वे लम्बे समय के लिए निवेश कर सकते हैं. कॉरपोरेट डायरेक्टर्स को इसमें वोट देने का अधिकार होता है. साथ ही नीतिगत बदलावों और स्टॉक स्प्लिट्स पर भी.



Preferred Stock क्या है(Preferred Stock in Hindi)

जैसे Common share को कोई इंसान खरीद सकता है. लेकिन Preferred share सिर्फ कुछ खास लोगो के लिए होते है. जब कोई भी कंपनी share जारी करती है तो तो पैसे जुटाने के लिए कंपनी पहले कुछ खास लोगो को वो शेयर खरीदने का अधिकार देती है. इसमें निवेशकों को एक निश्चित लाभ की गारंटी दी जाती है.

लेकिन Common share में निश्चित लाभ की गारंटी नहीं दी जाती है. ऐसे शेयर Preferred share कहलाते है. इसे पसंदीदा स्टॉक भी कहते है. इसमें वोट देने का अधिकार नहीं होता है निवेशक अपनी आय बढ़ाने के लिए पसंदीदा स्टॉक खरीदते हैं और कुछ लोग टैक्स में लाभ प्राप्त करने के लिए इसे यूज़ करते है.



DVR Stock क्या है (DVR Stock in Hindi)

यदि मैं आपको एकदम short-cut में बताऊ तो equity Stock और Preferred Stock को मिला कर इस टाइप के share को बनाया गया है. दूसरी भाषा में हम कह सकते है कि equity Stock और Preferred Stock दोनों के गुण आपको इसमें देखने को मिल जायेंगे.

DVR शेयर खरीदने वाले को पूरी तरह वोटिंग का अधिकार नहीं दिया जाता है और सिर्फ कुछ प्रतिशत का ही अधिकार प्राप्त होता है. इसमें DVR शेयर खरीदने वाले अधिक लाभ भी मिलता है। वर्तमान में भारत में दो कंपनी ने DVR शेयर जारी किया है, पहला – TATA MOTORS और दूसरा – JAIN irrigation

एक डीवीआर किसी कंपनी के सामान्य शेयर की तरह ही होता है, लेकिन ये प्रति शेयर 1 वोटिंग से कम वोटिंग करता है. ये जारी करने वालो के लिए बहुत उपयोगी साबित होता है जो मतदान के अधिकार को कम किए बिना पूंजी जुटाते हैं.

जो पैसे जुटाने के इसका उपयोग करते है. तो इसके वोटिंग फैक्टर पर ध्यान नहीं देते है. इसलिए वो इसको उपयोगी समझते है.



Conclusion

आज हमने भी जाना कि  “Stock market क्या है? (Stock market in Hindi), इससे पैसे कैसे कमाए और भी कई प्रश्नो के बारे में बात की. उम्मीद करता हु कि आज कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी.

यदि आपको हमारी ये जानकारी पसंद आयी है. तो आप इसे शेयर जरूर करे. और कोई हमारे लिए सुझाव या प्रश्न हो तो हमे कमेंट करके जरूर बताये. 

मेरा नाम रोहित शुक्ला है. मैं एक Blogger, Affiliate marketer और Rohitking.com का फाउंडर हु. यहाँ मैं आपको Tech, Blogging, Affiliate marketing, Stock market, SEO, Adsense, Social media marketing से जुड़ी जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करता हूँ.💥 🙏

2 thoughts on “सीखे | Stock market क्या है? इससे पैसे कैसे कमाए?”

  1. Nice post brother, I have been surfing online more than 3 hours today, yet I never found
    any interesting article like yours. It is pretty worth
    enough for me. In my view, if all web owners and bloggers made good content
    as you did, the internet will be much more useful than ever before.
    There is certainly a lot to know about this issue.

    I love all of the points you’ve made. I am sure this post
    has touched all the internet viewers, its really really good post on building up new weblog.
    Gyan Hi Gyann

    Reply

Leave a Comment