IP Telephony या VoIP क्या हैं? What is VoIP in Hindi

आज हम बात करेंगे कि VoIP और IP Telephony kya hai साथ ही जानेंगे कि VoIP कैसे काम करता है? इसके फायदे और नुकसान क्या है? और VoIP की लागत कितनी है?

IP Telephony या VoIP क्या है? (What is VoIP in Hindi)

Voice over Internet Protocol (VoIP), जिसे IP telephony भी कहा जाता है. VoIP एक मेथड और टेक्नोलॉजी का ग्रुप है जिसे Internet Protocol (IP) पर calling और मल्टीमीडिया (टेक्स्ट, फोटो, वीडियो, ऑडियो आदि) भेजने के लिए यूज़ किया जाता है ठीक इंटरनेट की तरह.

Internet telephony, broadband telephony और broadband phone जैसे शब्दो का यूज़ इंटरनेट पर कम्युनिकेशन सर्विस (वौइस्, डाटा, टेक्स्ट, साउंड और इमेज) के लिए यूज़ किया जाता है.

VoIP का फुल फॉर्म Voice over Internet Protocol है. Broadband के आने से फ़ोन सर्विसेस के लिए VoIP एक बेस्ट चॉइस बन गया है आज लोग पुराने समय के फोन की तुलना में VoIP फ़ोन सर्विसेस को यूज़ करना ज्यादा पसंद करते है क्युकी ये फ़ोन की तुलना में कई बेहतरीन फीचर प्रोवाइड करता है और इसमें फ़ोन की तुलना में लगभग आधे से भी कम दाम देने होते है।

आज क्लाउड फ़ोन भी बहुत पसंद किये जाते है क्युकि प्रोवाइडर इसमें कई पावरफुल फीचर प्रोवाइड करते है जो सामान्य फ़ोन सर्विस में नहीं मिलते है जैसे Auto attendants, call recording, custom caller ID, voicemail to email, और भी बहुत कुछ.

आज ज़्यदातर लोग VoIP (IP telephony) को local telephone company की तुलना में अच्छा विकल्प मानते हैं।

यदि आपने किसी IP address के बारे में सुना है, तो यह आपका internet protocol address है। एक IP address बताता है कि कंप्यूटर और डिवाइस, इंटरनेट पर एक दूसरे के साथ कैसे कम्युनिकेट करते हैं।

VoIP (IP telephony) वास्तव में कोई नयी टेक्नोलॉजी नहीं है। टेलीफोनी ने 90 के दशक के अंत से फोन कॉल करने के लिए डिजिटल लाइनों का यूज़ करना शुरू किया था। अनलिमिटेड कॉल्स को संभालने के लिए VoIP (IP telephony) एक सस्ता और अच्छा तरीका है।

यदि आप इंटरनेट को यूज़ करते है तो आप बिना किसी लोकल सर्विस के किसी भी व्यक्ति को कॉल कर सकते है VoIP service कॉल को मैनेज करने के अलावा भी कई काम कर सकती है

VoIP मौजूदा टेलीफोन नेटवर्क के माध्यम से आउटगोइंग और इनकमिंग कॉल की रूटिंग करता हैं। लैंडलाइन और सेल फोन, Public Switched Telephone Network (PSTN) पर निर्भर होते हैं।

पुराने समय के टेलीफोन वॉइस सिगनल को ले जाने के लिए एनालॉग लाइनों का उपयोग करते थे । यदि आप कॉल करना चाहते हैं, तो आपको अलग से वायरिंग इनस्टॉल करनी होगी।

कई बिज़नेस फोन सर्विस के लिए स्पेशल हार्डवेयर का यूज़ करते हैं। इस उपकरण को Private Branch Exchange (PBX) के रूप में जाना जाता है। यह प्राइवेट फोन एक्सटेंशन को पब्लिक टेलीफोन नेटवर्क से जोड़ता है। PBX का यूज़ करना काफी महंगा है।

इसकी जगह आपके पास एक अच्छा ऑप्शन है VoIP यूज़ करना।

एक भरोसेमंद VoIP प्रोवाइडर सब कुछ हैंडल कर सकता है आपको बस अपने ip फ़ोन को प्लग करना होगा और आपका काम हो गया. ये डिजिटल फोन कनेक्शन करने के लिए आपके हाई-स्पीड इंटरनेट कनेक्शन का उपयोग करते हैं।

install-voip-IP-telephony-network-setup-in-hindi

VoIP कैसे काम करता है? (How does VoIP work in Hindi)

VoIP इंटरनेट प्रोटोकॉल का उपयोग करता है, जो इंटरनेट का एक जरुरी बिल्डिंग ब्लॉक है।

ये फोन कॉल के लिए, छोटे डेटा पैकेट का उपयोग करके वॉइस का आदान-प्रदान करता है। इंटरनेट इन डेटा पैकेटों को एक सेकंड से भी कम समय में दुनिया भर में भेज सकता है। इंटरनेट टेलीफोनी के लिए, ये पैकेट आपके फोन और एक VoIP प्रोवाइडर के बीच ट्रेवल करते हैं।

एक VoIP फोन सिस्टम, अन्य फोन या किसी अन्य टेलीफोन कंपनी के बीच कॉल करने की सुविधा प्रदान करता है। इसके अलावा भी VoIP अन्य कई जरुरी काम करता है जैसे voicemail, call forwarding, call recording, और बहुत कुछ।

VoIP का काम बहुत सरल होता है जिसे आसानी से समझा जा सकता है चलिए कुछ सिंपल स्टेप में समझते है

  1. आपका फ़ोन आपके लोकल एरिया नेटवर्क (LAN) में आपके स्विच या राउटर से कनेक्ट होता है।
  2. जब आप एक टेलीफोन नंबर डायल करते हैं, तो आपका आईपी फोन आपके VoIP सर्विस प्रोवाइडर को दूसरे व्यक्ति को कॉल करने के लिए कहता है।
  3. आपकी VoIP सर्विस कॉल कनेक्ट करती है और आपके आईपी फोन से डेटा पैकेट का आदान-प्रदान करती है।
  4. आपका वीओआईपी फोन इन डिजिटल सिगनल को वापस उस वॉइस में बदल देता है जिसे आप सुन सकते हैं।

Top VoIP phone system features

  • Auto attendant
  • Mobile and desktop apps
  • HD call quality
  • Unified Communications
  • Instant messaging
  • Team chats
  • Video meetings
  • Screen sharing
  • Conference calling
  • Mobile and desktop apps
  • Call encryption and VoIP security
  • Call recording
Traditional-phone-and-VoIP-phone-in-hindi

Advantage of VoIP (फायदे)

कम लागत:

VoIP पुराने टेलीफोन सर्विस की तुलना में काफी सस्ता है जिसका अनुभव कई यूजर और बिज़नेस ने भी किया है उन्होंने बिलों में 60% से अधिक की कमी देखी है

हाई क्वालिटी वॉइस: 

इसमें बेहतर वॉइस क्वालिटी मिलती है जिससे वीडियो और ऑडियो कॉल का मज़ा खराब नहीं होता है

एडवांस फीचर: 

कंपनी चलाने के लिए auto attendants, call recording, और call queues की जरुरत पड़ती है जो इसमें मिलती है

रिमोट-रेडी:

VoIP एक रिमोट रेडी सर्विस है जिसका मलतब है आप जहां से चाहे वहां से फ़ोन सर्विस का मज़ा उठा सकते है

दुनिया भर में किसी को भी कॉल करें: 

ये इंटरनेशनल कॉल्स सपोर्ट करता है इसलिए आप दुनिया भर में किसी को भी कॉल कर सकते है

Disadvantage of VoIP (नुकसान)

हाई-स्पीड इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता है: 

डायल-अप या सैटेलाइट-आधारित इंटरनेट कनेक्शन पर VoIP (IP telephony) अच्छी तरह से काम नहीं करता है। आपको प्रति फ़ोन लाइन पर कम से कम 100 kbps (0.1 Mbps) की आवश्यकता होगी।

आपातकालीन सेवाओं की सीमाएँ:

आपातकालीन घटना में आपको अपने VoIP (IP telephony) फोन से 911 पर कॉल करना होगा, आपको ऑपरेटर को अपनी रियल लोकेशन बतानी होगी

एनालॉग फोन को आउटडेटिड बनाता है: 

वॉयस ओवर आईपी नई टेक्नोलॉजी का उपयोग करता है जो एनालॉग सिग्नल पर निर्भर नहीं करता है। जिससे एनालॉग फोन को आउटडेटिड हो जाते है.

VoIP की लागत कितनी है? (How much does VoIP cost)

यदि मैं आपको शार्ट में बताऊ तो अगर आप मध्यम फीचर्स चाहते है तो आपको प्रति यूजर $35 (लगभग 2600 भारतीय रुपए) चुकाने होंगे। चलिए थोड़ा बारीकी से नजर डालते है कि आम तौर पर कितना VoIP पर खर्च होता है:

Initial costs: $0-$50 प्रति लाइन

Monthly costs: $19-$45 प्रति लाइन

Device costs: $80-$600 प्रति IP phone

International calls: $0.01+ प्रति मिनट

Taxes and fees: आपके शहर, देश और राज्य पर निर्भर करता है।

Conclusion

आज हमने जाना कि IP Telephony या VoIP क्या है? (What is VoIP in Hindi) उम्मीद करता हु आपको ये जानकारी पसंद आयी होगी यदि आपके मन में अभी VoIP से रिलेटेड कोई प्रश्न है तो कमेंट में जरूर बताये मैं आपको उसका उत्तर जरूर दूंगा.

इस पोस्ट को शेयर करना बिलकुल भी न भूले

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap